केला दिमाग को भी बहुत ताकत देता है-दिनेश मालवीय

केला दिमाग को भी बहुत ताकत देता है

-दिनेश मालवीय

केला एक ऐसा फल है, जो खाने में स्वादिष्ट होने के साथ ही दिल-दिमाग को ताकत देता है और इम्युनिटी बढाता है. व्रत-उपवास में केला इसी लिए खाया जाता है. केले से दिमाग को सेरोटोनिन मिलती है, जो दिमाग के लिए बहुत उपयोगी होती है. केले में एक और ख़ास बात यह है कि यह ऊर्जा तो देता है, लेकिन मोटापा नहीं बढाता. इसमें सोडियम बहुत कम होता है और कोलेस्ट्रोल तो होता ही नहीं है. इसिल्लिये डायटिंग करने वाले लोग केला खाते हैं. केले में हमारे लिए ज़रूरी पोटेशियम होता है, जो हाई ब्लडप्रेशर को काबू में रखने में मड्ड करता है. यह आँतों की सदन को रोकता है. इसका केल्शियम आँतों की सफाई करता है.

केले से कब्ज और पेशाब की जलन भी कम होती है. पेचिश, अंत और ह्रदयरोगियों के लिए केला एक प्राकृतिक औषधि है.यह पचने में भी आसान होता है. केला शीतल, पौष्टिक, बलवर्धक, तेज बढाने वाला और वात पित्तनाशक होता है. हरे केले में स्टार्च की मात्र बहुत होती है, जबकि शकर बहुत कम होती है. पकने पर इसमें शकर की मात्र बढ़ जाती है. पके केले की खुशबू खास तरह की होती है. पका केला ठंडा, मीठा स्वादिष्ट और अनेक रोगों को दूर करने वाला होता है. केले में उपस्थित फास्फोरस मन और दिमाग को ताकत देता है. इसमें पैक्टिन नाम का एक पदार्थ होता है, जो मल को सॉफ्ट बनाता है. इससे पेट साफ़ हो जाता है. केले के छिलके के अन्दर वाला पतला मुलायम रेशा कब्ज दूर करता है. जिन बच्चों का वजन बढ़ाना हो, उन्हें केला खिलाया जाना चाहिये. बच्चों को दूध के साथ केला देने से उन्हें बहुत फायदा होता है. इसमें अगर थोड़ा सा शहद मिला दिया जाए तो इससे संक्रामक रोगों से बचाव होता है. सुबह केला खाकर दूध पीना एक संतुलित और पूर्ण आहार है. दही के साथ केला खाने से दस्त बंद हो जाते हैं और आंत के रोग ठीक होते हैं.

केला एकमात्र ऐसा फल है जो पेट के ज़ख्म वाले रोगियों को दिया जा सकता है. जिनके पेट में अल्सर होता है, उनके लिए केला खाना बहुत लाभकारी है. मुंह में छाले होने पर भी यह लाभकारी होता है. चोट पर केले का छिलका बाँधने से आराम मिलता है. घाव पर केले का पानी लगाकर पट्टी बांधने से घाव जल्दी भर जाता है. मिट्टी खाने वाले बच्चों को कुछ शहद के साथ केला खिलाया जाए तो उसकी यद् आदत छूट जाती है. बच्चा कांच की गोली या सिक्का आदि निगल जाए तो उसे केला खिलाना चाहिए.

बहरहाल, किसी भी चीज को सही तरह से खाने से ही फायदा होता है. केला दिन में ही खाना चाहिए, क्योंकि यह गरमी में ही जल्दी पचता है. रत में इसे नहीं खाना चाहिए. खाली पेट केला खाने की भी मनाही है. खाने के बाद या खाने के दौरान ही इसे खाया जाए तो ठीक है. केला खाकर पानी पीने से नुकसान होता है. इसके बाद दूध या इलायची खाने से यह जल्दी हजम होता है.

Priyam Mishra



हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


श्रेणियाँ