• India
  • Wed , May , 29 , 2024
  • Last Update 04:20:PM
  • 29℃ Bhopal, India

यक्ष प्रश्न- कांग्रेस नीत इंडी गठबंधन का नियोजित सनातन विरोध !

सार

डीएमके नेता,पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं सांसद ए.राजा ने वक्तव्य दिया कि उदयनिधि स्टालिन का रुख बहुत ही नरम था, उनके अनुसार सनातन की तुलना सामाजिक कलंक वाली कुछ बीमारियों जैसे एचआईवी और कुष्ठ रोग से की जानी चाहिए..!

janmat

विस्तार

तमिलनाडु में डीएमके के वरिष्ठ नेता, सरकार में उच्च शिक्षा मंत्री के. पोनमुडी ने बयान दिया है कि इंडी गठबंधन में 26 दल सनातन के विरुद्ध लड़ाई में एकजुट हैं।सनातन के विरुद्ध लड़ाई के लिए राजनीतिक शक्ति की आवश्यकता है। तमिलनाडु में कुछ दिनों पूर्व सनातन विरोधी सम्मेलन में तमिलनाडु सरकार में मंत्री उदयनिधि स्टालिन ने अपने लिखित प्रपत्र को पढ़ते हुए सनातन की तुलना डेंगू,मलेरिया,कोरोना वायरस से की एवं सनातन धर्म के उन्मूलन,समूल नष्ट करने का संकल्प लिया है।वह अपने वक्तव्य पर अडिग भी हैं।

डीएमके नेता,पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं सांसद ए.राजा ने वक्तव्य दिया कि उदयनिधि स्टालिन का रुख बहुत ही नरम था।उनके अनुसार सनातन की तुलना सामाजिक कलंक वाली कुछ बीमारियों जैसे एचआईवी और कुष्ठ रोग से की जानी चाहिए।तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन,अपने पुत्र और मंत्री उदयनिधि के संकल्प का बचाव कर कह रहे हैं कि उदयनिधि ने अनुसूचित जातियों,जनजातियों और महिलाओं के खिलाफ भेदभाव करने वाले सनातन सिद्धांतों पर अपने विचार व्यक्त किए थे। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने वर्ष 2018 के विधानसभा चुनाव के समय वक्तव्य दिया था कि मोदी को और शक्ति मिलेगी तो समझो फिर देश में सनातन धर्म और आरएसएस की हुकूमत आएगी ।

कर्नाटक से मंत्री और कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे के पुत्र प्रियंक खड़गे सनातन धर्म को समानता और सामाजिक न्याय के विरुद्ध मानते हैं। कांग्रेस नेता,पूर्व केंद्रीय मंत्री पी.चिदंबरम के बेटे और सांसद कार्ति चिंदबरम ने एक्स पर पोस्ट कर लिखा है कि सनातन धर्म जातियों में विभाजन के अलावा और कुछ नहीं है।तमिलनाडु कांग्रेस की महासचिव लक्ष्मी रामचंद्रन ने सनातनियों को जातिवादी और नफरत फैलाने वाले साथ ही हिंदुत्व और सनातन को उत्तर भारत की उपज बताया है। कर्नाटक में कांग्रेस सरकार के गृहमंत्री जी.परमेश्वर ने हिंदू धर्म की उत्पत्ति पर ही चिन्ह लगाया।उन्होंने कहा कि विश्व के इतिहास में कई धर्म उत्पन्न हुए जैसे जैन एवं बौद्ध धर्म का जन्म भारत में हुआ।लेकिन हिंदू धर्म का जन्म कब हुआ और किसने प्रारंभ किया?

कर्नाटक कांग्रेस के पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष कांग्रेस नेता सतीश जरकीहोली ने कहा था कि हिन्दू शब्द ही बहुत गंदा है।
दो माह पूर्व कर्नाटक में सनातन धर्म के अंग जैन पंथ के आचार्य श्री कामकुमार नंदी महाराज का अपहरण कर,शरीर में विद्युत प्रवाह कर,यातना देकर जघन्य हत्या की गई।तत्पश्चात मृत शरीर के टुकड़े-टुकड़े कर गहरे बोर वेल में फेंक दिया गया था।कांग्रेस की सरकार ने गंभीरता नहीं दिखाई,सीबीआई जांच नहीं करवाई है। जिससे देश के संपूर्ण जैन पंथ अनुयायियों में रोष व्याप्त  है।

बिहार में राष्ट्रीय जनता दल के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह का कथन है कि तिलक लगाकर घूमने वालों ने देश को गुलाम बनाया।
बिहार के शिक्षा मंत्री चंद्रशेखर यादव जो प्रोफेसर भी हैं विश्वविद्यालय के कार्यक्रम में कहा कि रामचरितमानस पर विवादस्पद टिप्पणी की है।
आम आदमी पार्टी के महासचिव गोपाल इटालिया जब गुजरात आम आदमी पार्टी के अध्यक्ष थे, तब उन्होंने कहा था कि मंदिर नहीं जाना चाहिए और देवी-देवताओं की पूजा नहीं करनी चाहिए।

आम आदमी पार्टी के दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री राजेंद्र पाल गौतम ने भी उदयनिधि स्टालिन के कथन का समर्थन किया है।पूर्व में भी दिल्ली सरकार में मंत्री रहते हुए राजेंद्र पाल गौतम ने हजारों लोगों के समक्ष यह शपथ ली थी कि वह ब्रह्मा,विष्णु,महेश ,राम, कृष्ण आदि हिंदू देवी देवताओं को नहीं मानेंगे।फलस्वरूप उनको मंत्री पद से त्यागपत्र देना पड़ा।

उत्तर प्रदेश से समाजवादी पार्टी के नेता स्वामी प्रसाद मौर्य का कथन है कि हिंदू धर्म एक धोखा है।पूर्व में भी वह रामचरितमानस और उसके रचयिता गोस्वामी तुलसीदास पर विवादित टिप्पणी कर चुके हैं । समाजवादी पार्टी सरकार ने अयोध्या बम विस्फोट में सम्मिलित आतंकवादियों को छोड़ने के लिए कोर्ट में पैरवी की थी।फलस्वरुप कोर्ट ने टिप्पणी की थी कि अखिलेश सरकार आतंकवादियों को पद्म विभूषण से अलंकृत करना चाहती है।

कांग्रेस नीत इंडी गठबंधन के समस्त दलों को सनातन संस्कृति पर वक्तव्य देने से पहले व्यापकता से  सनातन का अध्ययन करना चाहिए। सनातन का अर्थ सदा रहने वाला है। अनादिनिधन है जिसका न आदि है और  न अंत है।हमारे पुराणों में कहा गया है कि-

युगादिपुरुषो ब्रह्मा पञ्चब्रह्ममयः शिवः ।
परः परतरः सूक्ष्मः परमेष्ठी सनातनः।
हमारे आराध्य युग के प्रारंभ से हैं ब्रह्म है शिव हैं सनातन हैं।
अद्रोहः सर्वभूतेषु कर्मणा मनसा गिरा।
अनुग्रहश्च दानं च सतां धर्मः सनातनः।

अर्थात मन, वाणी और कर्म से प्राणियों के प्रति सद्भावना, सब पर कृपा और दान यही साधु पुरुषों का सनातन-धर्म है।

हिन्दव: सहोदरा: सर्वे, न हिंदू पतितो भवेत् ।
मम दीक्षा धर्म रक्षा:,मम मंत्र समानताः।

अर्थात –सब हिंदू भारत माँ की संतान होने से सहोदर,भाई हैं।इसलिए कोई हिंदू अछूत नहीं हो सकता। हमने ‘समानता’ का मंत्र लेकर ‘धर्म रक्षा’ की दीक्षा ली है।

हिंदू पंथ(शैव,शाक्त, वैष्णव),जैन पंथ, बौद्ध पंथ,सिख पंथ सभी सनातन के अंग हैं।

यह सनातन की सहिष्णुता है जिसने भारत में सैकड़ों वर्षों पहले पारसी पंथ,ईसाई पंथ,यहूदी पंथ सभी को स्थान दिया।

विश्व में सनातन गौरव प्राप्त कर रहा है।

संयुक्त राज्य अमेरिका में केंटुकी के लुइसविले शहर की मेयर ने 3 सितंबर 2023 को सनातन धर्म दिवस घोषित कर दिया है।प्रतिवर्ष मनाया जाएगा । मलेशिया में हिंदू संगम नामक संगठन ने भी उदयनिधि के सनातन के अपमान के विरुद्ध भारतीय उच्च आयोग को शिकायती पत्र दिया है।भारतीय सनातन ज्ञान ने ही विश्व को शून्य दिया।दशमलव दिया है।परमाणु बम के आविष्कारक अमेरिकी वैज्ञानिक जे रॉबर्ट ओपेनहाइमर श्रीमद्भागवत गीता से प्ररेणा लेते थे। क्वांटम मकैनिक्स देने वाले नोबेल विजेता इरविन श्रोडिंगर उपनिषद और हिन्दू धर्मग्रंथों से प्रेरणा लेते थे। रॉकेट साइंस के जनक वार्नर वॉन के गुरु हरमन ओबर्थ ने कहा था कि ज्ञान के लिए वेद पढ़ना चाहिए।

भारत की ढाई सौ से ज्यादा प्रसिद्ध व्यक्तित्व ने सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश को पत्र लिखकर के इस मामले में स्वत: संज्ञान लेने का निवेदन किया है ।

ऐसा प्रतीत होता है कि कांग्रेस और साथी 26 दलों के इंडि गठबंधन का न्यूनतम साझा कार्यक्रम (Minimum Common Program )का प्रमुख बिंदु  सनातन धर्म का विरोध करना है।अतः यह आवश्यक है कि कांग्रेस के शीर्ष नेता सोनिया गांधी को अपना मत स्पष्ट करना चाहिए।