ज़िन्दगी मुश्किल है कितनी, यह किसी मुफलिस से पूछो – Dinesh Malaviya “Ashk”

HowDifficult-newspuran

ज़िन्दगी मुश्किल है कितनी, यह किसी मुफलिस से पूछो
ज़िल्लतें दुनिया मे कितनी, साहिबे-दानिश से पूछो।

क्या अजब तुम आदमी हो, ढूँढते ख़ुद मे नहीं हो
क्यों भला अपना पता ही रात-दिन इस उससे पूछो।

खप गयीं पीढ़ी की पीढ़ी, जायज़ादें मिट गयी हैं
क्या मिला उनको, कभी कुछ भी भला रंजिश से,पूछो।

एक-सी सबकी कहानी, लफ्ज़ और क़िरदार बदले
दास्तानें दुख भरी सबकी रहीं , किस किस से पूछो।

खो गया बचपन कहाँ, क्यों लुप्त यौवन हो गया है
कौन बतला पायेगा, जाकर भला यह किससे पूछो।

DineshSir_00_b


हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


श्रेणियाँ