देखें कैसे MP में बेकाबू हुए बदरा? .. नर्मदा में आई भीषण बाढ़ … सेना बुलाई .. CM ने ली आपात बैठक

मध्यप्रदेश(MP) में आफत की बारिश(RAIN):होशंगाबाद में बाढ़(FLOOD) के हालत, सेना(ARMY) और हेलीकॉप्टर बुलाए गए; सीएम ने की आपात बैठक; अगले दो दिन 24 जिलों में बारिश(RAIN) का अलर्ट जारी

आपात स्थिति से निपटने के लिए हम सतत सेना और एयरफोर्स के संपर्क में हैं। इसके अलावा अन्य तैयारियां भी जारी हैं। #COVID19 को ध्यान में रखते हुए सभी व्यवस्थाएं की जा रही हैं। भोजन, दवाई की पर्याप्त व्यवस्था के साथ स्वच्छता पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिये हैं।मेरे प्रदेश के भाई-बहनों, अति वर्षा से निपटने के लिए पर्याप्त व्यवस्था है। मैं सतत हालात और व्यवस्थाओं पर नजर बनाये हुए हूं। आप जरा भी चिंतित न हों। जल जमाव अथवा बाढ़ की स्थिति हो, तो तत्काल प्रशासन को सूचित करें, ताकि समय रहते हम आपकी मदद कर सकें।

Shivraj Singh Chouhan CM, MP

नर्मदा नदी(RIVER) का जल स्तर खतरे के निशान 964 फिट से 4 फिट ऊपर 968.90 फिट पर पहुंच गया। अब होशंगाबाद में बाढ़(FLOOD) के हालात को देखते हुए सेना(ARMY) बुलाई गई है।

नर्मदा नदी(RIVER) का जल स्तर खतरे के निशान 964 फीट 4 फीट ऊपर 968.90 पर पहुंच गया है
तवा डैम(DAM) के सभी 13 के 13 गेटों को 30-30 फीट खोलकर पानी को लगातार छोड़ा जा रहा

मध्यप्रदेश(MP) के बारिश(RAIN) से हालात मुश्किल हो रहे हैं। होशंगाबाद में बाढ़(FLOOD) से हालात बिगड़ गए हैं। इसके चलते अब सेना(ARMY) को बुलाया गया है। एनडीआरएफ की दो यूनिट भी मदद के लिए पहुंच रही हैं। शाम तक सेना(ARMY) के हेलीकाप्टर भी होशंगाबाद पहुंच जाएंगे। उधर, भोपाल में भी शुक्रवार से लगातार बारिश(RAIN) का दौर जारी है। शनिवार सुबह 6 बजे तक भोपाल में 97.7 मिमी पानी रिकॉर्ड किया गया।

दरअसल, लगातार हुई बारिश(RAIN) से प्रदेश में 251 डैम(DAM) में से 120 डैम(DAM) में पानी क्षमता से 90% से अधिक हो चुका है। ऐसे में ज्यादातर डैम(DAM) को गेट खोलने से निचले क्षेत्रों में बाढ़(FLOOD) का खतरा बढ़ गया है। होशांगाबाद की बात करें तो यहां भारी बारिश(RAIN) से नर्मदा का जलस्तर खतरे के निशान 964 फीट से 4 फीट ऊपर यानी 968.90 पर पहुंच गया। तवा डैम(DAM) के सभी 13 गेट को 30-30 फीट खोलकर 5 लाख 33 हजार 823 क्यूसिक पानी प्रति सेकंड छोड़ा जा रहा है।

फिलहाल बारिश(RAIN) से राहत नहीं

मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे प्रदेश भर के अधिकांश जिलों में भारी बारिश(RAIN) का अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग ने छिंदवाड़ा, विदिशा, सीहोर, राजगढ़, शाजापुर और आगर में रेड अलर्ट जारी किया है। इसके अलावा भोपाल और इंदौर समेत 18 जिलों में तेज बारिश(RAIN) का यलो अलर्ट जारी किया है।

होशंगाबाद के बाढ़(FLOOD) के साथ ही सीहोर, रायसेन, सागर में तेज बारिश(RAIN) एवं मौसम खराब होने के कारण मुख्यमंत्री(CM0 शिवराज सिंह चौहान ने अपना दौरा रद्द कर दिया। सुबह 10 बजे मुख्यमंत्री(CM0(CN) निवास पर आपात बैठक बुलाई। मुख्यमंत्री(CM0(CN) ने प्रदेश की प्रमुख नदियों के जलस्तर की जानकारी ली। मुख्यमंत्री(CM0(CN) ने अधिकारियों से कहा है कि पूरी स्थिति पर पैनी नजर बनाए रखें। जहां जैसी जरूरत हो उस पर तुरंत कदम उठा।

होशंगाबाद में बाढ़(FLOOD) से हालत बिगड़े।

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि नर्मदा और उसकी सहयोगी नदियों में जलस्तर बढ़ गया है। कई नदियां खतरे के निशान के ऊपर बह रही हैं। प्रदेश के कुछ हिस्सों में अगले 48 घंटे में भारी बारिश(RAIN) का अलर्ट जारी किया गया है। एनडीआरएफ और एसडीआरएफ अलर्ट पर हैं।

होशंगाबाद के आसपास भी बारिश(RAIN) से हालत खराब हुए।
होशंगाबाद

प्रदेश के डैम(DAM) की स्थित

तवा डैम(DAM) के सभी 13 गेट खोले गए हैं
इंदिरा सागर के 22 गेट खोले गए हैं
ओम्कारेश्वर में 23 में से 21 गेट खोले गए हैं
राजघाट 18 में से 14 गेट खोले गए
बरगी के 21 में से 17 गेट खोले गए
मंडला, पेंच बांध(DAM) के सभी गेट खोले गए हैं
भोपाल में भदभदा के 4 और कलियासोत के 5 गेट खोले गए
भोपाल के न्यू मिनाल में सड़कों तक घुटनों तक पानी भर गया।

भोपाल में भदभदा डैम(DAM) के 4 गेट खोले गए

राजधानी भोपाल में बीते 24 घंटे में लगातार बारिश(RAIN) हो रही है। शनिवार सुबह 6 बजे शहर में 97.7 मिमी पानी गिर चुका था, जबकि भोपाल जिले में 80.9 मिमी बारिश(RAIN) रिकॉर्ड की गई। इसके चलते भदभदा डैम(DAM) फुल हो गया। उसके सुबह ही 4 गेट खोलने पड़े।

ओंकारेश्वर में नर्मदा नदी(RIVER) उफान पर है।

खंडवा, खरगोन, बड़वानी और धार जिलों को रेड अलर्ट

इंदिरा सागर और ओंकारेश्वर बांध(DAM) के गेट खोलने के बाद नर्मदा ने अपना रौद्र रूप धारण कर लिया है। लगातार बढ़ रहे जलस्तर के कारण खंडवा, खरगोन, बड़वानी और धार जिलों को रेड अलर्ट पर रखा गया है। खंडवा में प्रशासन नर्मदा पट्टी स्थित गांवों में नजर बनाए हुए हैं। दोनों बांधों से करीब 10 हजार क्युमेक्स प्रति सेकंड की रफ्तार से पानी छोड़ा जा रहा है। इससे नर्मदा का जलस्तर खतरे के निशान तक पहुंच गया है। वहीं, सरदार सरोवर बांध(DAM) के बैक वाटर में लगातार इजाफा हो रहा है। लोग नाव की मदद से सामान शिफ्ट कर रहे हैं।


हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


श्रेणियाँ