फाइजर सशर्त के साथ देगा 5 करोड़ डोज, अगले साल तक आएगी मॉडर्ना की सिंगल डोज वैक्सीन  

फाइजर सशर्त के साथ देगा 5 करोड़ डोज, अगले साल तक आएगी मॉडर्ना की सिंगल डोज वैक्सीन  

 

कोरोना की दूसरी लहर से परेशान भारत में vaccine को लेकर एक अच्छी खबर है। मॉडेर्ना का एक खुराक वाला टीका अगले साल भारत में आने की पक्की खबर है। इसके लिये वह सिप्ला और अन्य भारतीय दवा कंपनियों से बातचीत कर रही है।  अमेरिका की फाइजर 2021 में ही पांच करोड़ टीके देने को तैयार है मगर वह क्षतिपूर्ति के साथ  कुछ नियाम की शर्तों में बड़ी छूट चाहती है। सूत्रों ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

 

कोविड वैक्सीन

 

मॉडेर्ना ने भारतीय प्राधिकरणों को बताया है कि उसके पास 2021 में अमेरिका से बाहर के लिए टीके का स्टॉक नहीं हैं। जॉनसन एण्ड जॉनसन भी आने वाले कुछ समय में अमेरिका से अपने टीके को दूसरे देशों को भेज पायेगी इसके भी बहुत कम संभावनाएं है।

बाजारों में टीके की उपलब्धता को लेकर कैबिनेट सचिव ने पिछले सप्ताह कुछ उच्चस्तरीय बैठकें करी है। इनमें विदेश मंत्रालय, नीति आयोग, जैव प्रौद्योगिकी विभाग, कानून मंत्रालय और स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारी भी उपस्थित थे। देश में कोविड19 टीकाकरण अभियान में अभी दो टीकों -कोवीशील्ड और कोवैक्सिन-का इस्तेमाल किया जा रहा है।जनवरी 2021 के मध्य में शुरू हुए टीकाकरण अभियान के बाद से अब तक 20 करोड़ टीके की खुराक दी जा चुकी हैं।

भारत के अंदर रूस की स्पुतनिक वी वैक्सीन को भी मंजूरी मिली है लेकिन अभी इसकी आपूर्ति बहुत सीमित संख्या में है। समझा जाता है कि सिप्ला ने मॉडेर्ना से 2022 में पांच करोड टीके खरीदने की रुचि दिखाई है। उसने सरकार से नीतिगत व्यवस्था में स्थायित्व का आश्वासन मांगा है। स्वास्थ्य मंत्रालय से भी कहा गया है कि वह मॉडेर्ना का टीका खरीदने में सिप्ला को जरूरी समर्थन देने के आग्रह पर जल्द निर्णय ले।

जहां तक फाइजर की बात है, इसने पांच करोड़ टीके इसी साल उपलब्ध कराने का संकेत दिया है। इसमें एक करोड़ टीके जुलाई में, एक करोड़ अगस्त में और दो करोड सितंबर तथा एक करोड़ टीके अक्टूबर में उपलब्ध कराये जायेंगे। कंपनी ने कहा है कि वह केवल केंद्र सरकार से बात करेगी और टीकों का भुगतान केंद्र सरकार द्वारा फाइजर इंडिया को करना होगा।

भारत को टीके देने के लिये फाइजर ने भारत सरकार से क्षतिपूर्ति का करार किए जाने की शर्त भी रखी है और इसके दस्तावेज भेजे हैं। फाइजर के मुताबिक उसने अमेरिका सहित 116 देशों से क्षतिपूर्ति के करार किये हैं। दुनियाभर में फाइजर टीके की अब तक 14.7 करोड़ खुराक दी जा चुकी हैं। फिलहाल कहीं से भी किसी तरह के उल्लेखनीय दुष्प्रभाव की रिपोर्ट नहीं है।

Rajesh Narbariya



हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


श्रेणियाँ